ज्योतिष

आशाया ये दासास्ते दासाः सर्वलोकस्य ।
आशा येषां दासी तेषां दासायते लोकः ॥

जो लोग इच्छाओं के सेवक हैं वे पूरी दुनिया के सेवक बन जाते हैं।
जिनके लिए इच्छा एक सेवक है उनके लिए पूरी दुनिया भी एक सेवक है।